Sex Strike in US: अमेरिकी महिलाएं कर रहीं सेक्स स्टाइक , जानिए कब तक नहीं बनाएंगी संबंध और क्या है उनकी डिमांड

Sex Strike in US: वैसे आप कई स्टाइक देखा होगा लेकिन इन दिनो अमेरिका4 में अनूठी सेक्स स्टाइक (Sex Strike) हो चल रही है। आप सोचे गे कि ऐसी स्ट्राइक की स्थिती क्यों बनी तो आईए आज हम आपको स्टोरी समझाते है। असल में अमेरिकी सुप्रीम कोर्ट के आदेश के विरुद्ध महिलाएं अनोखा सेक्स स्टाइक (Sex Strike) कर रही है। इसके अनुसार देश में गर्भपात को कानूनी वैधता (legalization of abortion) नहीं मिलने तक वे पुरुषों से संबंध नहीं बनाए गी।

shashiblog.in

मामला जानिए??

मामला यह है कि अमेरिका की सुप्रीम कोर्ट ने गर्भपात के अधिकार (legalization of abortion) को समाप्त कर दिया है। इससे 26 राज्य इस पर पाबंदी का कानून बनाने पर विचार कर रह रहे हैं। इससे महिलाएं खफा हैं। वे अनूठे ढंग से इसके विरुद्ध आंदोलन छेड़ रही हैं। महिलाएं अपने इस आंदोलन में पुरुषों से भी सहयोग मांग रही हैं। 

किसी पुरुष से संबंध नहीं रखेंगी

Shashiblog.in

अमेरिकी महिलाएं सोशल मीडिया (social media)
के जरिए पुरुषों से तब तक sex से बचने के लिए कह रही हैं जब तक कि गर्भपात का अधिकार की बहाली का संघीय कानून नहीं बनता। सोशल मीडिया
(social media) में अनूठे हैशटैग से हड़ताल को लेकर अभियान चलाए जा रहे हैं। #SexStrike और #abstinence ट्रेंड हो रहे हैं। महिलाओं का कहना है कि हम गर्भावस्था का खतरा नहीं उठा सकते हैं। इसलिए हम किसी भी पुरुष के साथ यौन संबंध (sexual relations) नहीं रखेंगे। पति के साथ भी संबंध नहीं बनाएंगे। जब तक हम गर्भवती नहीं होना चाहेंगी, तब तक यौन संबंध नहीं बनाएंगी। 

Sex Strike in US

हमारे शरीर पर हमारा अधिकार नहीं तो पुरुषों का भी नहीं

Shashiblog.in

अमेरिकी महिलाओं का कहना है कि यदि हमारे शरीर पर हमारा राइट नहीं है तो पुरुषों का भी नहीं है। एक महिला ने ट्विटर पर लिखा कि ‘मैं न्यूयॉर्क में रहती हूं और सुप्रीम कोर्ट के फैसले के विरुद्ध हूं। मैं ऐसे लोगों को ढूंढ रही हूं जो सेक्स स्ट्राइक का समर्थन कर रहे हैं। यही हमारी शक्ति है। गर्भपात के अधिकार को संघीय कानून बनने तक सेक्स न करें।’ देशव्यापी सेक्स स्ट्राइक का समर्थन करते हुए एक अन्य महिला ने लिखा ‘जब तक महिलाओं को गर्भपात का कानूनी राइट नहीं मिलता तब तक पुरुषों से संबंध न बनाएं।’

Anant singh story: अनंत सिंह कैसे बना मोकामा का ‘डॉन’? जानिए उसके जुर्म की पूरी कहानी


आपको बताते चले कि रेप पीड़िता माया डेमरी भी अमेरिकी सुप्रीम कोर्ट के निर्णय पर जमकर गुस्सा जाहिर की । उसने लिखा कि ‘अगर यह दुनिया सोचती है कि वे हमेशा के लिए महिलाओं पर अत्याचार कर सकते हैं, तो हम अपने पैर सिकोड़ लेंगे।’  कैरोलाइन हीले ने कहा कि इस निर्णय से मालूम चलता है कि एक पुरुष की sex life अधिक महत्वपूर्ण है। बजाए महिला के। 

फैसले का हो रहा कड़ा विरोध, सीनेट के बाहर उग्र प्रदर्शन

अमेरिकी सुप्रीम कोर्ट के फैसले का कड़ा विरोध जताते हुए , इसके विरुद्ध लोग सड़कों पर भी उतर आए हैं। एरिजोना कैपिटल के बाहर प्रदर्शन कर रहे लोगों को तितर-बितर करने के लिए पुलिस को आंसू गैस के गोले दागने पड़े। प्रदर्शनकारियों ने सीनेट भवन के शीशे के दरवाजों से धक्कामुक्की शुरू की तो कई सांसद हमले की आशंका से इमारत के तहखाने में जाकर छिप गए। यानी अमेरिका में इस समय एक अनोखा स्ट्राइक चल रहा है।

दोस्तों इस मुद्दा पर आपका क्या विचार है कामेंट प्रकट करे।

Leave a Reply

Infinix Zero 5G Goes Official in India as the Brand’s First 5G Phone: Price, Specifications Happy Hug Day 2022: Wishes, Messages, Quotes, Images, Facebook & WhatsApp status IPL Auction 2022 Latest Updates Happy New Year Wishes 2022 Happy New Year Wishes 2022 Happy New Year 2022 Wishes Omicron Variant: अमेरिका में ओमिक्रॉन वैरिएंट का पहला मामला