Friday, October 22, 2021
Homeहटके ख़बरMahatma Gandhi Ke Mrtyu Se Jude Rochak Tathya- महात्मा गांधी के मृत्यु...

Mahatma Gandhi Ke Mrtyu Se Jude Rochak Tathya- महात्मा गांधी के मृत्यु से जुड़े रोचक तथ्य

 

Hlo दोस्तों महात्मा गाँधी भारत देश के राष्टपिता के रूप में इतिहास के पन्नो में सदा ही अमर रहेंगे। महात्मा गाँधी केवल भारत देश में ही नहीं बल्कि देश-विदेश में भी प्रसिद्ध रहे है।  जैसा कि आप जानते कि 30 जनवरी 1948 को गाँधीजी की हत्या हो गई है। शाम करीब 5 बजकर 17 मिनट उन्हे नाथू राम गोडसे ने गोली मार हत्या कर दी। आईए हम जानते 

Mahatma Gandhi Ke Mrtyu Se Jude Rochak Tathya

इस विडियो में गांधीजी के मुत्यु जुड़े रोचक fact के बारे  में ..

(1)महात्मा गाँधी जी अपनी मौत से एक दिन पहले कांग्रेस पार्टी को खत्म करने का विचार कर रहे थे।

(2).अंतिम समय में महात्मा गाँधी जी के मुँह से निकला था “राम…..रा …..म..”

(3) पंडित नेहरू ने गाँधी जी की मृत्यु पर देश को रेडियो द्वारा सम्बोधित किया था, कहा था कि “राष्टपिता अब नहीं रहे “। 

दतततत

(4) गाँधी जी की शवयात्रा को भारत की सबसे बड़ी शवयात्रा मानी जाती है..

(5) नाथू राम गोडसे ने मूगफली खाने के बात गाँधी जी को एक के बाद एक तीन गोलियां मारी थी। गांधीजी आज भी हम सभी दिलो जीवित है।  

(6) गाँधी जी समय के बहुत ज्यादा पाबंद थे।

(7) महात्मा गाँधी के अंतिम यात्रा में जिस गाड़ी पर 

 से ले जाया गया था, उसी गाड़ी में मदर टेरेसा की अंतिम यात्रा में भी इस्तेमाल किया गया था।

(8) महात्मा गाँधी को जीवन में पांच बार नोबल पुरुस्कार के लिए नामांकित किया गया था। लेकिन एक बार भी नही मिल सका । परंतु 1948 निश्चित हो गया था कि नोबल पुरुस्कार उन्ही मिलने वाला था, उसी समय  उनका हत्या हो गया था। जिस वजह 1948 में किसी को भी ये पुरुस्कार नही मिला। महात्मा गाँधी स्वयं किसी भी अवार्ड से बड़ा थे।  

(9) गाँधी जी का उपवास होने की वजह से स्वतंत्रता दिवस की रात नेहरू जी का भाषण सुनने के लिए नहीं गए थे।

(10) गाँधी जी अपनी ही 12 साल के भतीजी और अन्य औरतो के साथ नंगे ही सोते थे। उनका तर्क था, कि वह अपनी ब्रह्मचर्य को लेकर ऐसा प्रयोग करते थे।

 

 

(11) महात्मा गांधी की मृत्यु के बाद उनके शव यात्रा में 10 लाख  लोग शामिल हुए। 15 लाख लोग शव यात्रा के रास्ते में खड़े हुए थे। उनकी शव यात्रा भारत के इतिहास में सबसे बड़ी शव यात्रा थी। लोग खंभों, पेड़ और घर की छतों पर चढ़कर बापू को एक नजर देखना चाहते थे।

(12) वह एक महान लेखक थे। उन्होंने 50,000 पृष्ठ से भी ज्यादा का लेखन कार्य किया।

(13.) महात्मा गांधी ने 4 महाद्वीपों में और 12 देशों में नागरिक अधिकारों के लिए आंदोलन किया था।

(14.) महात्मा गांधी के नाम पर भारत में 53 प्रमुख सड़के हैं और विदेशों में 48 प्रमुख सड़कें हैं।

(15.) उन्होंने अहिंसा के रास्ते पर चल कर भारत को आजादी दिलाई। कभी भी हिंसा का सहारा नहीं लिया।महात्मा गांधी के बारे में कई बातें तो हम सब जानते हैं पर कुछ ऐसी बातें भी हैं जिनसे हम अनजान हैं।

(16.) महात्मा गाँधी जी स्वदेशी कट्टर समर्थन करते थे।

दोस्तों आपको लेख कैसा लगा अपनी राय हमे कामेंट जरूर दे ओर पंसद आया लाइक व शेयर करे और इसी तरह के पोस्ट पढ़ने के लिए हमारे website subscribe kre….

RELATED ARTICLES

Leave a Reply

Most Popular

Recent Comments

%d bloggers like this: