Happy Republic Day 2022: गणतंत्र दिवस के मौके पर अपने परिवार और दोस्तों को इन संदेशों के जरिए शुभकामनाएं

  • Happy Republic Day 2022: भारत में हर साल 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस मनाया जाता है। इस दिन सभी लोग देशभक्ति के रंग में रंग जाते हैं। आजादी के ढाई साल बाद 1950 में भारत के संविधान को आधिकारिक तौर पर 26 जनवरी को लागू किया गया था और इसलिए इस ऐतिहासिक दिन को गणतंत्र दिवस के रूप में मनाया जाता है।

गणतंत्र दिवस का इतिहास {Happy Republic Day 2022:}

दिसम्बर 1929 में लाहौर में पंडित जवाहरलाल नेहरू की अध्यक्षता में कांग्रेस का अधिवेशन हुआ। इस अधिवेशन में एक प्रस्ताव पारित करते हुए यह घोषणा की गई कि यदि भारत को ब्रिटिश सरकार द्वारा 26 जनवरी 1930 तक डोमिनियन का दर्जा नहीं दिया गया, तो भारत को पूरी तरह से स्वतंत्र देश घोषित कर दिया जाएगा।

Republic Day 2022:जानिए गणतंत्र दिवस 26 जनवरी को ही क्यों मनाया जाता है?

26 जनवरी 1930 तक, जब ब्रिटिश सरकार ने कुछ नहीं किया, कांग्रेस ने उस दिन भारत की पूर्ण स्वतंत्रता के दृढ़ संकल्प की घोषणा की और अपना सक्रिय आंदोलन शुरू किया। उस दिन से 1947 में स्वतंत्रता प्राप्ति तक, 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस के रूप में मनाया जाता रहा। इसके बाद वास्तविक स्वतंत्रता प्राप्त कर 15 अगस्त 1947 को स्वतंत्रता दिवस मनाया जाने लगा। भारत के स्वतंत्र होने के बाद, संविधान सभा की घोषणा की गई और इसने 9 दिसंबर 1947 को अपना काम शुरू किया। संविधान सभा के सदस्यों का चुनाव भारत की राज्य विधानसभाओं के निर्वाचित सदस्यों द्वारा किया जाता था।

आज़ादी की कभी शाम नहीं होने देंगे

शहीदों की कुरबानी बदनाम होने नहीं देंगे

बची हो जो एक बूंद भी गरम लहू की

तब तक भारत माता का आंचल नीलाम नहीं होने देंगे

Happy Republic Day 2022

चलो फिर आज वो नज़ारा याद कर लें

शहीदों के दिल में थी वो ज्वाला याद कर लें

जिसमें बहकर आज़ादी पहुंची थी किनारे पे

देशभक्तों के खून की वो धारा याद कर लें

Happy Republic Day 2022

गणतंत्र दिवस क्यों मनाया जाता है?

15 अगस्त 1947 को लंबे संघर्ष के बाद भारत को ब्रिटिश शासन से आजादी मिली। उसी समय, पंडित जवाहरलाल नेहरू ने नागरिकों को भारत की स्वतंत्रता की घोषणा करते हुए अपना प्रसिद्ध भाषण ‘ट्रिस्ट विद डेस्टिनी’ सुनाया। लेकिन दुख की बात यह है कि भारत के लोगों को अपनी सरकार चुनने का अधिकार नहीं था, इसके पीछे का कारण यह था कि उस समय भारत में कोई संविधान नहीं था। इसलिए ढाई साल बाद 26 जनवरी 1950 को भारतीय संविधान लागू हुआ और भारत दुनिया का सबसे बड़ा लोकतंत्र बन गया। इसी दिन के उपलक्ष्य में हर साल 26 जनवरी को पूरे देश में भारत का गणतंत्र दिवस बड़ी धूमधाम से मनाया जाता है.

ये बात हवाओं को बताए रखना,

रोशनी होगी चिरागों को जलाए रखना,

लहू देकर जिसकी हिफाज़त हमने की,

ऐसे तिरंगे को सदा दिल में बसाए रखना।

Happy Republic Day 2022

आज़ादी का जोश कभी कम न होने देंगे,

जब भी ज़रूरत पड़ेगी देश के लिए जान लुटा देंगे,

क्योंकि भारत हमारा देश है,

अब दोबारा इस पर कोई आंच न आने देंगे।

Happy Republic Day 2022

गणतंत्र दिवस की पहली परेड 1955 में हुई थी

तीन वर्षों में, संविधान सभा के 165 दिनों में 11 सत्र हुए। 9 दिसंबर 1949 को संविधान के प्रारूप को संविधान सभा द्वारा अपनाया गया था और लगभग एक महीने के बाद 26 जनवरी 1950 को पूर्ण स्वराज के शुभारंभ के दिन लागू किया गया था। पहली गणतंत्र दिवस परेड 1955 में दिल्ली के राजपथ पर आयोजित की गई थी।

राष्ट्र के लिए मान-सम्मान रहे

हर एक दिल में हिन्दुस्तान रहे

देश के लिए एक-दो तारीख नहीं

भारत मां के लिए ही हर सांस रहे

Happy Republic Day 2022

वतन हमारा ऐसा न छोड़ पाए कोई,

रिश्ता हमारा ऐसा न तोड़ पाए कोई,

दिल हमारा एक है, एक है हमारी जान,

हिन्दुस्तान हमारा है और हम है इसकी शान.

Happy Republic Day 2022

हस्तलिखित संविधान

क्या आप जानते हैं कि भारत का संविधान एक लिखित संविधान है। हमारे संविधान को बनाने में दो साल 11 महीने और 18 दिन लगे। भारतीय संविधान 395 अनुच्छेदों और 8 अनुसूचियों के साथ दुनिया का सबसे बड़ा लिखित संविधान है। 26 जनवरी 1950 को डॉ. राजेंद्र प्रसाद ने गवर्नमेंट हाउस के दरबार हॉल में भारत के पहले राष्ट्रपति के रूप में शपथ ली।

credit : Ruhee Parvez

Leave a Reply

Infinix Zero 5G Goes Official in India as the Brand’s First 5G Phone: Price, Specifications Happy Hug Day 2022: Wishes, Messages, Quotes, Images, Facebook & WhatsApp status IPL Auction 2022 Latest Updates Happy New Year Wishes 2022 Happy New Year Wishes 2022 Happy New Year 2022 Wishes Omicron Variant: अमेरिका में ओमिक्रॉन वैरिएंट का पहला मामला