Friday, October 22, 2021
HomePoliticsजब इंदिरा संजय को शक हुआ युपी के मुख्यमंत्री चार तांत्रिकों के...

जब इंदिरा संजय को शक हुआ युपी के मुख्यमंत्री चार तांत्रिकों के मदद से उनके और माँ के खात्मे षडयंत्र रच.

एक ऐसी कहानी जब इंदिरा वSanjay Gandhi (संजय गांधी) को शक हुआ कि उन पर एक मुख्यमंत्री चार तांत्रिकों के सहायता ये संजय और उनकी माँ के खात्मे षडयंत्र रच रहा है , उसके बाद उस मुख्यमंत्री गिरफ्तार कर लिया गया।

आज हम आपको बताए गे भारतीय राजनीति के एक ऐसी कहानी जिसमें सुनकर आप हैराण हो जाएगा। चलिए शुरू करते है , जैसा कि आप जानते हैं कि emergency भारतीय राजनीति इतिहास काला अध्याय है। emergency दौरान एक मुख्यमंत्री कुर्सी इसलिए चली गई क्योंकि इंदिरा व Sanjay Gandhi (संजय गांधी)को किसी ने बताया कि एक राज्य के मुख्यमंत्री उन दोनो के खात्मे षडयंत्र रच रहा है।

कौन था वो मुख्यमंत्री

ये मुख्यमंत्री युपी के थे। जिनका नाम हेमवती नंदन बहुगुणा है। इन पर संजय व इंदिरा को शक था कि ये तांत्रिकों के मदद से उनके हत्या षडयंत्र रच रहे है। आपको विस्तार पुर्वक बताते के लिए एक पुस्तक के मदद ले रहे है वो पुस्तक है Emergency Ki Inside Story पेज नंबर 126 का है।

Emergency Ki Inside Story पेज नंबर 126
ऐसे लोगों का कहना था कि हेमवती नंदन बहुगुणा मुख्यमंत्री के पद से पहले ही हटा दिए जाते, लेकिन इलाहाबाद का फैसला था। और ऐसा सोचा गया था कि वे उसे प्रभावित कर सकते हैं। उसके बाद उन्हें उससे भी बड़ी वजह मिल गई थी। यशपाल कपूर, जो श्रीमती गांधी की जगह पर यू.पी. के मामले देखा करते थे।यशपाल कपूर को यह पता चला कि हेमवती नंदन बहुगुणा चार तांत्रिकों को संजय और उनकी माँ के खात्मे की प्रार्थना के लिए काम पर लगाया था। उनमें से दो ने गुनाह कबूल कर लिया था। मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री पी.सी. सेठी की मदद से कपूर ने उन्हें उसी राज्य में ढूँढ़ निकाला था और मीसा के तहत गिरफ्तार करवाया।

आज हम आपको बताए गे भारतीय राजनीति के एक ऐसी कहानी जिसमें सुनकर आप हैराण हो जाएगा। चलिए शुरू करते है , जैसा कि आप जानते हैं कि emergency भारतीय राजनीति इतिहास काला अध्याय है। emergency दौरान एक मुख्यमंत्री कुर्सी इसलिए चली गई क्योंकि इंदिरा व सजय को किसी ने बताया कि एक राज्य के मुख्यमंत्री उन दोनो के खात्मे षडयंत्र रच रहा है।

आज हम आपको बताए गे भारतीय राजनीति के एक ऐसी कहानी जिसमें सुनकर आप हैराण हो जाएगा। चलिए शुरू करते है , जैसा कि आप जानते हैं कि emergency भारतीय राजनीति इतिहास काला अध्याय है। emergency दौरान एक मुख्यमंत्री कुर्सी इसलिए चली गई क्योंकि इंदिरा व सजय को किसी ने बताया कि एक राज्य के मुख्यमंत्री उन दोनो के खात्मे षडयंत्र रच रहा है।

कौन था वो मुख्यमंत्री

ये मुख्यमंत्री युपी के थे। जिनका नाम हेमवती नंदन बहुगुणा है। इन पर संजय व इंदिरा को शक था कि ये तांत्रिकों के मदद से उनके हत्या षडयंत्र रच रहे है। आपको विस्तार पुर्वक बताते के लिए एक पुस्तक के मदद ले रहे है वो पुस्तक है Emergency Ki Inside Story पेज नंबर 126 का है।

Emergency Ki Inside Story पेज नंबर 126
ऐसे लोगों का कहना था कि हेमवती नंदन बहुगुणा मुख्यमंत्री के पद से पहले ही हटा दिए जाते, लेकिन इलाहाबाद का फैसला था। और ऐसा सोचा गया था कि वे उसे प्रभावित कर सकते हैं। उसके बाद उन्हें उससे भी बड़ी वजह मिल गई थी। यशपाल कपूर, जो श्रीमती गांधी की जगह पर यू.पी. के मामले देखा करते थे।यशपाल कपूर को यह पता चला कि हेमवती नंदन बहुगुणा चार तांत्रिकों को संजय और उनकी माँ के खात्मे की प्रार्थना के लिए काम पर लगाया था। उनमें से दो ने गुनाह कबूल कर लिया था। मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री पी.सी. सेठी की मदद से कपूर ने उन्हें उसी राज्य में ढूँढ़ निकाला था और मीसा के तहत गिरफ्तार करवाया।

पत्रकार कुलदीप नैयर बातचीत में बहुगुणा ने बताया

पत्रकार कुलदीप नैयर बातचीत में बहुगुणा नेबताया कि सारी बातें मनगढंत थीं और जिस तांत्रिक की बात वे लोग कर रहे थे, वह वास्तव में था ही नहीं। शायद एक वैद्य था, एक आयुर्वेदिक चिकित्सक, जिसने कमलापति त्रिपाठी समेत यू.पी. के कई नेताओं का उपचार किया था। उन्हें गलती से तांत्रिक समझ लिया गया था। श्रीमती गांधी ने बहुगुणा को इस्तीफा देने के लिए कहा और उन्होंने 29 नवंबर को हुक्म की तामील कर दी। मुख्यमंत्री पद छोड़ने के बाद बहुगुणा ने उनसे मिलने की कोशिश की, लेकिन कामयाब नहीं हुए। उन्हें फिर कभी उनसे मिलने का वक्त नहीं दिया गया, न ही उन्हें अपना पक्ष रखने का मौका दिया गया, क्योंकि उनके सारे बयानों को सेंसरशिप के तहत रोक दिया गया।

दोस्तों ये ऐसी कहानी थी जो शायद आजतक छुपाया गया था। लेकिन ऐसे ही कहानी खोज लाएगे। जिस से आपको emergency कहानी बेहतर तरीके समझ पाएगे ।

RELATED ARTICLES

Leave a Reply

Most Popular

Recent Comments

%d bloggers like this: