Delhi Liquor Policy: सिसोदिया समेत 15 के खिलाफ CBI ने दर्ज की FIR, डिप्टी cm को बताया शराब घोटाले का मुख्य आरोपी

Delhi Liquor Policy: आबकारी घोटाला मामले में दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया की मुश्किलें बढ़ती जा रही हैं. सीबीआई ने इस मामले में सिसोदिया को मुख्य आरोपी बनाया है। जो एफआईआर कॉपी सामने आई है उसमें कुल 15 लोगों के नाम हैं, लेकिन सिसोदिया का नाम सबसे ऊपर है.

Delhi Liquor Policy
shashiblog


आबकारी घोटाला मामले में दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया की मुश्किलें बढ़ती जा रही हैं. उनके घर पर कई घंटों से सीबीआई की जांच चल रही है. एक सरकारी अधिकारी के आवास पर भी छापेमारी की गई है. वहां से जांच एजेंसी को उत्पाद शुल्क से जुड़े कुछ गोपनीय दस्तावेज मिले हैं. सीबीआई के मुताबिक ये दस्तावेज किसी सरकारी अधिकारी के घर में नहीं होने चाहिए थे।

Delhi Liquor Policy

राजू श्रीवास्तव की तबीयत में सुधार, पत्नी ने बताया सेहत का हाल

शराब घोटाले में मिले गुप्त दस्तावेज

Delhi Liquor Policy
shashiblog


जानकारी के लिए बता दें कि मनीष सिसोदिया समेत कुछ अन्य अधिकारियों के घर पर सुबह से ही सीबीआई की छापेमारी चल रही है. कई घंटों की इस छापेमारी में कुछ दस्तावेज जमा किए गए हैं. कुछ ऐसे दस्तावेज एक सरकारी अधिकारी के आवास से भी मिले हैं। सीबीआई अभी यह नहीं बता रही है कि ये दस्तावेज किस अधिकारी से मिले हैं, लेकिन पूरी जांच में इसे एक बड़ा घटनाक्रम माना जा रहा है|

Delhi Liquor Policy


सिसोदिया बने मुख्य आरोपी


सीबीआई दस्तावेजों के अलावा सिसोदिया के वाहन की भी तलाशी ले रही है। जांच एजेंसी को उम्मीद है कि डिप्टी सीएम के वाहन से कुछ अहम दस्तावेज भी लिए जा सकते हैं. इस पूरे मामले में सीबीआई द्वारा दर्ज प्राथमिकी में मनीष सिसोदिया को भी मुख्य आरोपी बनाया गया है. कुल 15 लोगों के नाम सामने आए हैं, जिनमें सिसोदिया का नाम सबसे ऊपर है|

Delhi Liquor Policy

यहां यह जानना जरूरी है कि मनीष सिसोदिया के खिलाफ सीबीआई जांच की सिफारिश एलजी वीके सक्सेना ने मुख्य सचिव की रिपोर्ट के आधार पर की थी। मनीष सिसोदिया पर नए उत्पाद शुल्क में गड़बड़ी का आरोप है|

न्यूयॉर्क टाइम्स विवाद?

Delhi Liquor Policy
shashiblog


हालांकि इस समय आबकारी घोटाले को लेकर विवाद है, लेकिन हंगामा उस विज्ञापन पर है जो न्यूयॉर्क टाइम्स में प्रकाशित हुआ था। उस अंतरराष्ट्रीय अखबार के सामने दिल्ली सरकार की शिक्षा नीति की काफी तारीफ हुई थी| बीजेपी के मुताबिक पैसे देकर आप खुद की तारीफ करते हैं| लेकिन जब एक समाचार चैनल ने न्यूयॉर्क टाइम्स से बात की तो अखबार ने साफ कर दिया कि उसकी ओर से कोई विज्ञापन प्रकाशित नहीं किया गया है, बल्कि यह ग्राउंड रिपोर्टिंग के आधार पर तैयार की गई खबर है|

Leave a Reply

Infinix Zero 5G Goes Official in India as the Brand’s First 5G Phone: Price, Specifications Happy Hug Day 2022: Wishes, Messages, Quotes, Images, Facebook & WhatsApp status IPL Auction 2022 Latest Updates Happy New Year Wishes 2022 Happy New Year Wishes 2022 Happy New Year 2022 Wishes Omicron Variant: अमेरिका में ओमिक्रॉन वैरिएंट का पहला मामला