Home Trending Afghanistan,: Taliban ने मौलवियों से मांगी 15 से ज्यादा उम्र की सभी...

Afghanistan,: Taliban ने मौलवियों से मांगी 15 से ज्यादा उम्र की सभी लड़कियों की लिस्ट, गुलाम बनाने की है तैयारी

0
130
Afghanistan,: Taliban
Afghanistan,: Taliban

Afghanistan,: Taliban काबुल से जो खबरे आ रही है वो वास्तव में हैराण करने वाली है। जहाँ पर तालिबानी आतंकियों का (Taliban’s Terrorists) ने एक एक नया फरमान (Taliban Asked For List Of Girls Above 15) जारी किया गया है। जिसमें लिखा गया है कि उसको 15 साल से अधिक उम्र की सभी लड़कियों और 45 साल से कम उम्र की सभी विधवा महिलाओं की लिस्ट उपलब्ध करवाए जाए।

काबुल: रेडिकल इस्लामिक आंतकवादी संगठन तालिबानी आतंकियों का (Taliban’s Terrorists) को कहर जारी है। वे अफगानी सुरक्षाबलों पर लगातार आक्रमण कर रहे हैं। इस बीच तालिबान की तरफ से एक नया फरमान (Taliban Asked For List Of Girls Above 15) जारी किया गया है। जिसमें लिखा गया है कि उसको 15 साल से अधिक उम्र की सभी लड़कियों और 45 साल से कम उम्र की सभी विधवा महिलाओं की लिस्ट उपलब्ध करवाए जाए।

Afghanistan,: Taliban
Afghanistan,: Taliban

आपको बता दे कि द सन में छपी एक रिपोर्ट के अनुसार तालिबान ने वादा किया है। कि वह अपने लड़ाकों से निकाह करवाने के बाद इन महिलाओं को पाकिस्तान के वजीरिस्तान में भेज देगा।अगर कोई लड़की मुस्लिम नहीं होगी तो उसका धर्म परिवर्तन करवाया जाएगा। वास्तव में तालिबान इन महिलाओं को अपने लड़ाकों की sex गुलाम बनाना चाहता है। तालिबान लड़ाके इन महिलाओं का यौन उत्पीड़न sensual arousal करेंगे।

तालिबान ने पत्र जारी करके मांगी लिस्ट

तालिबान कल्चरल कमीशन की तरफ से जारी किए गए एक पत्र में लिखा गया है कि सभी इमाम और मौलवी तालिबान के कब्जे वाले क्षेत्र में मौजूद 15 साल से अधिक उम्र की युवतियों और 45 साल से कम उम्र की विधवा महिलाओं की लिस्ट सौंपे। इन महिलाओं को तालिबान के लड़ाकों के हवाले किया जाएगा।

अगर आप भी चाहते हैं 

तालिबानी आतंकवादियों ने तेज किए हमले

एक न्यूज चैनल कि रिपोर्ट के अनुसार तालिबानी आतंकवादियों ने हमले तेज किए है। जिस वजह से अफगानिस्तान के 85 फीसदी क्षेत्र पर तालिबानी ने
कब्जा कर लिया है। सुत्रो माने तो अफगानिस्तान के सेना के पास कुछ जिलो ही है। जैसा कि आप जानते हैं कि अमेरिका, ब्रिटेन और अन्य देशों के सैनिक अफगानिस्तान छोड़ कर चुके है। जिसका फायदा तालिबानी आंतकवादी उठा रहे है।

महिलाओं का अकेले घर से निकलना हुआ बंद

ये भी बता दें कि तालिबान ने अपने कब्जे वाले क्षेत्र में शरिया का कानून लागू कर दिया है। यहां अब स्मोक करना, दाढ़ी काटना और महिलाओं का अकेले घर से निकलना बैन कर दिया गया है। आपको बता दे कि तालिबानी शरिया आर में महिलाए के अधिकार छीन रहा है.. असल मायने इस्लाम में महिलाओ प्रति भेदवाद बहुत अधिक होता है जिसका फायदा ये रेडिकल सोच रखने वाले आंतकवादी संगठन उठाते है। तालिबानी और Isis जैसे आंतकवादी संगठन महिलाओ को sex अर्थात भोग की वस्तू है। वास्तविकता ये इन लोगो ने महिलाओ को इंसान के तौर देखा ही नहीं बल्कि कि तालिबानी और Isis जैसे आंतकवादी संगठन लड़ाके बस sex के भुख को पुरा करने वाली या फिर बच्चे पैदा करने वाले मशीन समझते है। लेकिन सबसे दुख बात है ये आज पुरे विश्व के मानव अधिकार के रक्षा करने वाले लोग मौन धारण कर चुके है।

NO COMMENTS

Leave a Reply

%d bloggers like this: