Affiliate Marketing kya hai… और कमाए लाखों रूपये

Affiliate Marketing: आप अक्सर ही Affiliate Marketing के बारे में सुनते हैं। आज हम इस आर्टिकल में Affiliate Marketing के बारे में बताएं गे। Affiliate Marketing पैसे कमाने का सबसे Powerful तरीका है, जिसके द्वारा आप लाखों रूपये महीने के आसानी से कमा सकते हैं। एफिलिएट मार्केटिंग करने के लिए यह मालूम होना भी आवश्यक है कि सही तरीके से एफिलिएट मार्केटिंग कैसे करें??
Affiliate Marketing
यदि आप एफिलिएट मार्केटिंग के बारे में जानना चाहते हैं और इसे सीखना चाहते हैं तो आप एकदम सही आर्टिकल पर आये हैं। इस आर्टिकल में मैंने आपको Affiliate Marketing Kya Hai, एफिलिएट मार्केटिंग काम कैसे करती है, एफिलिएट मार्केटिंग कैसे करें, तथा एफिलिएट मार्केटिंग के फायदे और नुकसानों के बारे में विस्तृत रूप से जानकारी दी है। मुझे पूरा यकीन है कि इस आर्टिकल को पढने के बाद आप Affiliate Marketing को आवश्यक सीख जायेंगे।

एफिलिएट मार्केटिंग क्या है (Affiliate Marketing Kya Hai)

वास्तव में Affiliate Marketing एक ऐसी ऑनलाइन मार्केटिंग होती है जिसमें एक Affiliate अन्य कंपनी या व्यक्ति के प्रोडक्ट को अपनी Marketing strategy के द्वारा बेचकर कमीशन प्राप्त करता है। यह कमीशन 5% से लेकर 90% या इससे भी अधिक हो सकता है। एफिलिएट सिंपल एफिलिएट प्रोग्राम को ज्वाइन करके उन प्रोडक्ट को फाइंड कर सकते है। जिसमें उसे इंटरेस्ट है, और फिर प्रोडक्ट की एफिलिएट लिंक लेकर विभिन्न माध्यमों जैसे ब्लॉग, यूट्यूब , सोशल मीडिया आदि के द्वारा प्रमोट कर सकते है। जब कोई यूजर उसकी एफिलिएट लिंक पर क्लिक करके प्रोडक्ट खरीदता है तो Affiliate को कुछ प्रतिशत कमीशन मिलता है,जो कि एक एफिलिएट की कमाई होती है। यह कमीशन एफिलिएट प्रोग्राम, प्रोडक्ट केटेगरी, प्रोडक्ट आदि पर निर्भर करता है।

एफिलिएट मार्केटिंग काम कैसे करती है

Affiliate Marketing
Affiliate Marketing की कार्यप्रणाली को समझने के लिए हम इसे चार भागों में बाँट सकते हैं।
product manufacturer Affiliate affiliate program Customer
इस बात इस प्रकार समझे कि सबसे पहले प्रोडक्ट निर्माता या कंपनी अपना प्रोडक्ट बनाती हैं‌। वह चाहें तो अपना प्रोडक्ट खुद मार्केट कर सकती हैं लेकिन वे मार्केटिंग में इतनी अच्छी नहीं होती और साथ में ही उन्हें अपने प्रोडक्ट को प्रमोट करने के लिए सही लोगों की तलाश होती है इसलिए वे एफिलिएट को ढूंढते हैं‌। फ्रीलांसर क्या होता है? Freelancer बनकर पैसे कैसे कमायें?? एफिलिएट को ढूंढने के लिए कंपनी Affiliate Platform पर जाती हैं और वहां अपने प्रोडक्ट को लिस्ट करवाती है, इन एफिलिएट प्लेटफॉर्म पर एफिलिएट भी रहते हैं।फिलिएट प्लेटफॉर्म एफिलिएट और कंपनी को आपस में जोड़ती है।

एफिलिएट मार्केटिंग से जुड़े महत्वपूर्ण टर्म

जब आप एफिलिएट मार्केटिंग करेंगे तो आपको अनेक प्रकार के शब्द सुनने को मिलेंगे जिनके बारे में आपको मालूम बहुत ही आवश्यक है। Affiliate – एफिलिएट उस व्यक्ति को कहा जाता है जो Affiliate Program को ज्वाइन करता है और विभिन्न कंपनियों के प्रोडक्ट को प्रमोशन करने के बदला में कमीशन प्राप्त करता है। वेंडर या मर्चेंट – वह व्यक्ति या कंपनी जी प्रोडक्ट को बनाती है उसे वेंडर या मर्चेंट कहा जाता है। Affiliate इन्हीं के प्रोडक्ट को प्रमोशन करते हैं। Affiliate Link – यह एक यूनिक लिंक होती है जिसके द्वारा एफिलिएट प्रोडक्ट को प्रमोशन किया जाता है। Affiliate ID– जब एफिलिएट किसी Affiliate Platform में Sign up करता है तो उसे एक यूनिक आईडी दी जाती है जिसे कि Affiliate ID कहते हैं। अधिकतर प्लेटफॉर्म में Affiliate ID का इस्तेमाल एफिलिएट लिंक Generate करने के लिए करते हैं। कमीशन– जब एफिलिएट एक सक्सेसफुल सेल कर लेता है तो जो अमाउंट उसे दिया जाता है उसे कमीशन कहते हैं। एफिलिएट मार्केटिंग कैसे करें (Affiliate Marketing Kaise Kare)

Affiliate Marketing Kya Hai

Affiliate Marketing
अब हमारे इस आर्टिकल का सबसे महत्वपूर्ण पार्ट शुरू होने वाला है, इसमें आपको Affiliate Marketing को स्टॉर्ट करने के पूरे स्टेप
के बारे में सोर्टेड तरीके से बताया गया है। आप इन स्टेप को फॉलो करके एफिलिएट मार्केटिंग शुरू कर सकते हैं, और इससे लाखों रूपये महीने के कमा सकते हैं। Valentine Day क्यों मनाते हैं? क्या है इस दिन का History? 2023 किसी भी बिज़नस को शुरू करने का पहला कदम Niche होता है। लेकिन Affiliate Marketing भी एक बिज़नस है, इसलिए इसमें भी आपको Niche चुनना आवश्यक होता है। चलिए जानते हैं Niche के लिए विस्तृत से।

Niche क्या है (What is a Niche)

निच एक केटेगरी या टॉपिक होता है, जिसमें आप एफिलिएट मार्केटिंग करते हैं। विश्व में कोई भी बिज़नस हो चाहे ऑनलाइन या ऑफलाइन एक Niche का सिलेक्ट करना बहुत जरूरी है। आप बिना Niche के आप एफिलिएट मार्केटिंग नहीं कर सकते हैं. Niche एफिलिएट मार्केटिंग में सफलता की और पहला इंपॉर्टेंट कदम है।‌

Niche के कितने प्रकार (Type of Niche)

Health (स्वास्थ) – डाइट, बॉडीबिल्डिंग, सप्लीमेंट, फिटनेस, एक्सरसाइज, सुन्दरता आदि। Wealth (सम्पति) – ऑनलाइन पैसे कमायें, ट्रेडिंग, क्रिप्टोकरेंसी, बिज़नस, ऑनलाइन मार्केटिंग आदि। Relationship (रिश्ता) – शादी – विवाह, डेटिंग आदि।

Niche कैसे चुनें (How to Decide Niche)

सभी बिज़नस इन चारों केटेगरी में बंटे हुए हैं. आपको सबसे पहले इन चारों में से अपने इंटरेस्ट के मुताबिक एक Niche को सेलेक्ट कर लेना है। और फिर उस निच को Narrow Down करके अपने लिए सही Niche Decide कर लिया। कई लोग शुरुआत में ही अलग – अलग निच पर काम करने लगते हैं, जिससे उन्हें अच्छे रिजल्ट नहीं मिलते हैं, और वे सोचते हैं कि एफिलिएट मार्केटिंग कमाई नहीं होता है। लेकिन ऐसा बिल्कुल भी नहीं है अगर आप एक माइक्रो निच पर काम करेंगे तो आप Affiliate Marketing से आवश्यक अच्छी कमाई करेंगे। चलिए एक उदाहरण के द्वारा समझते हैं। माना दो डॉक्टर हैं, जिनमें से एक केवल दाँतों का डॉक्टर है और दूसरा सब कुछ का अब आप ही सोचिये कोई दांत का Patient होगा तो वह किसके पास जायेगा, जाहिर सी बात है वह दांत के डॉक्टर से सलाह लेगा, क्योंकि वह एक विशेषज्ञ डॉक्टर है। उसी तर्ज पर एफिलिएट मार्केटिंग में भी होता है, अगर आप एक माइक्रो Niche सेलेक्ट करेंगे तो लोग आपके द्वारा Recommended प्रोडक्ट को खरीदेंगे और आप अच्छे पैसे कमा पायेंगे। इस उदाहरण से आप एफिलिएट मार्केटिंग में Niche की Value समझ गए होंगे।आप दुसरे Chapter को पढने से पहले एक निच तय कर लें।‌ जब आप एक निच को डिसाइड लिए है तो अगला स्टेप आता है एफिलिएट प्लेटफॉर्म को ज्वाइन करने का

एफिलिएट प्लेटफ़ॉर्म क्या है (What is Affiliate Platform)

एफिलिएट प्लेटफॉर्म ऐसी वेबसाइटें होती हैं जिनमें वेंडर और एफिलिएट दोनों रहते हैं। वेंडर अपने प्रोडक्ट को इन वेबसाइटों में लिस्ट करवाते हैं और एफिलिएटउन प्रोडक्ट की मार्केटिंग करते हैं और बिक्री पर कमीशन प्राप्त करते हैं।

एफिलिएट प्लेटफ़ॉर्म की आवश्यकता क्यों पड़ी?

कई लोगों के मन में यह प्रश्र भी आता है कि क्यों एफिलिएट प्लेटफॉर्म की आवश्यकता पड़ती है। क्या एफिलिएट सीधे कंपनी से कॉन्टैक्ट करके एफिलिएट मार्केटिंग नहीं कर सकते हैं? चलिए इसका उत्तर भी जानते हैं। पहले जब एफिलिएट प्लेटफॉर्म नहीं हुआ करते थे तो कई वेंडर एफिलिएट के साथ फ्रॉड कर देते थे, अर्थात एफिलिएट प्रोडक्ट को बिकवा देते थे लेकिन वेंडर
उन्हें पेमेंट नहीं करते थे। इसके अलावा भी अनेक सारी समस्यायें थी, जैसे कि वेंडर का सही एफिलिएट के पास ना पहुँच पाना, वेंडर का एफिलिएट को सही डेटा ना दिखाना आदि।‌ इन सारी समस्याओं से निपटने के लिए आवश्यकता पड़ी एफिलिएट प्लेटफॉर्म की।

एफिलिएट प्लेटफ़ॉर्म के लाभ

एफिलिएट प्लेटफॉर्म के आने से निम्नलिखित
लाभ हुए, इसके लाभ एफिलिएट के साथ – साथ वेंडर को भी मिलें। एफिलिएट प्लेटफॉर्म वेंडर और एफिलिएट को एक साथ जोड़ता है। वेंडर को अपने प्रोडक्ट के लिए बेस्ट एफिलिएट
मिलते हैं। वेंडर और एफिलिएट के बीच ट्रांसपेयर से बनती है। एफिलिएट निडरता के साथ प्रोडक्ट को बेच कर पैसे कमाता है। एफिलिएट अपने डैशबोर्ड में वेंडर और उसके प्रोडक्ट की हिस्ट्री चेक कर सकता है। अर्थ प्रोडक्ट बिक रहा है या नहीं, कितने लोग प्रोडक्ट को प्रमोट कर रहे हैं आदि। एफिलिएट के पास चुनने के लिए ज्यादा विकल्प ( प्रोडक्ट) होते हैं। सबसे अच्छा एफिलिएट प्रोग्राम (Best Affiliate Program) आज के वक्त में कई सारे एफिलिएट प्रोग्राम उपस्थित हैं। जिन्हें आप ज्वाइन कर सकते हैं, और उनके प्रोडक्ट को प्रमोट कर सकते हैं।कुछ बेस्ट एफिलिएट
प्रोग्राम हमने आपको नीचे बता रहे हैं।
Amazon Associate Clickbank Warrior Plus Digistore 24 Share A Sale JVZoo Commission Junction Impact Radius Clickfunnel Groovefunnel

कौन सा एफिलिएट प्रोग्राम ज्वाइन करें?

ज्यादातर शुरूआती एफिलिएट मार्केटर के साथ यह समस्या आती है कि उन्हें समझ में नहीं आता है किस एफिलिएट प्रोग्राम को ज्वाइन करें। तो इसका उत्तर है कि आप दो या तीन एफिलिएट प्रोग्राम को ज्वाइन कर सकते हैं, और फिर उनमें Check करें कि आपके निच के प्रोडक्ट किस एफिलिएट प्रोग्राम में ज्यादा हैं, और कहाँ अधिक कमीशन मिल रहा है। यह सब चीजें Check करके आप शुरुआत में एक ही एफिलिएट प्रोग्राम के प्रोडक्ट को प्रमोट करें।‌जब आपको कुछ Sale आ जायेगी तो आप विभिन्न – विभिन्न प्रोग्राम को ज्वाइन करके प्रोडक्ट को प्रमोट कर सकते हैं। किसी भी एफिलिएट प्लेटफार्म में आपको अपनी निच से रिलेटेड ढेर सारे प्रोडक्ट मिल जायेंगे, यहाँ पर आप
कन्फ्यूज हो सकते हैं कि किस प्रोडक्ट को प्रमोट करे और किसे नहीं, उसके बारे में हमने आपको अब बताने जा रहे हैं। एफिलिएट प्रोडक्ट के प्रकार (Types of Affiliate Product) एफिलिएट प्रोडक्ट सेलेक्ट करने से पहले आपको प्रोडक्ट के प्रकार के बारे में भी विस्तृत डिटेल होनी चाहिए। एफिलिएट प्रोडक्ट मुख्य रूप से दो प्रकार के होते हैं।
  1. Low Ticket Product 
ऐसे एफिलिएट प्रोडक्ट जिनमें कमीशन कम होता है उन्हें लो टिकट प्रोडक्ट कहते हैं। इनमें कमीशन 10$ से लेकर 50$ तक होता है।
  1. High Ticket Product  ऐसे एफिलिएट प्रोडक्ट जिनमें कमीशन बहुत ज्यादा होता है उन्हें हाई टिकट प्रोडक्ट कहते हैं। इनमें कमीशन 50$ से लेकर 500$ या उससे ज्यादा का होता है।
सभी एफिलिएट प्रोग्राम में आपको दोनों प्रकार के प्रोडक्ट मिल जायेंगे।

एफिलिएट प्रोडक्ट कैसे चुनें (How to Select Product)

एक नये एफिलिएट मैटकीटर को शुरूआत में Low Ticket प्रोडक्ट को ही प्रमोट करना चाहिए, क्योंकि इसमें सेल लाने के लिए आपको ज्यादा एफोर्ट नहीं लगाने पड़ेंगे। लेकिन अगर आप शुरुआत में ही High Ticket प्रोडक्ट को प्रमोट करेंगे तो आपको सेल लाने के लिए एक अच्छी स्ट्रेटजी के साथ कड़ी मेहनत की आवश्यकता होती हैं। क्योंकि शुरूआत में इतना अधिक ज्ञान नहीं होता है तो High Ticket प्रोडक्ट में Sale लाना आपके लिए बहुत मुश्किल हो जाएगा। और उसमें कंपटीशन
भी बहुत अधिक होता है। इसलिए शुरुआत में Low Ticket प्रोडक्ट को ही प्रमोट करें। प्रोडक्ट सेलेक्ट करने में आप इस बात का ध्यान भी रखें कि जिस प्रोडक्ट को आप प्रमोट कर रहे हैं वह मार्केट में बिक भी रहा है या नहीं, यह चैक करने के लिए आप एफिलिएट प्रोग्राम की मैट्रिक्स (Matrix) को चैक कर सकते हैं।

प्रमोशन के लिए प्लेटफ़ॉर्म सेटअप

अब आपके पास एक प्रोडक्ट है, आपको उस प्रोडक्ट को डिजिटल एसेट के द्वारा प्रमोट करना है। आप अपने प्रोडक्ट के लिए। परफेक्ट प्लेटफार्म को सेलेक्ट करें जहाँ से आप ट्रैफिक लेकर आयेंगे और प्रोडक्ट को बेच कर कमीशन प्राप्त कर सकते हैं। कुछ लोकप्रिय प्लेटफ़ॉर्म मैंने आपको नीचे बतायें हैं जिनके द्वारा आप आसानी से एफिलिएट प्रोडक्ट को प्रमोट कर सकते हैं‌‌।
  1. यूट्यूब चैनल बनायें यूट्यूब चैनल भी एफिलिएट मार्केटिंग करने का एक अच्छा जरिया है। आप प्रोडक्ट के बारे में विडियो बना सकते हैं।। कई एफिलिएट मार्केटिंग यूट्यूब
    चैनल के द्वारा प्रोडक्ट को प्रमोट करके अच्छा कमाई कर रहे हैं।
  2. सोशल मीडिया पर पेज बनायें
आप सोशल मीडिया पर पेज बनाकर भी एफिलिएट
मार्केटिंग कर सकते हैं। आज लगभग सभी लोग किसी ना किसी सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर जुड़े हैं, और अपना ज्यादातर वक्त सोशल मीडिया पर ही बिताते हैं। इसलिए एफिलिएट मार्केटिंग एक अच्छा विकल्प होता है कि सोशल मीडिया पर पेज बनाकर प्रोडक्ट को बेच सके और कमीशन हासिल कर सके।
  1. ब्लॉग बनायें
आप ब्लॉग के द्वारा एफिलिएट प्रोडक्ट को प्रमोट कर सकते हैं। उसके लिए आपको पहले एक ब्लॉग बनाना
पड़ेगा।और उस पर आप प्रोडक्ट का रिव्यू आर्टिकल लिखकर पब्लिश कर सकते हैं।और जब आपके ब्लॉग पर ट्रैफिक आएगा तो आप लाइफटाइम एफिलिएट मार्केटिंग से पैसे कमाते रहेंगे। ब्लॉग बनाने के लिए आप डोमेन नाम और होस्टिंग की आवश्यकता पड़ता है। ऐसे कई होस्टिंग है जहां होस्टिंग लेने पर आपको डोमेन फ्री मिल सकता है।
  1. ईमेल मार्केटिंग करें
आप अपने ब्लॉग या लैंडिंग पेज में लोगों के ईमेल को कलेक्ट कर सकते हैं,और ईमेल मार्केटिंग के द्वारा भी एफिलिएट प्रोडक्ट को बेचकर पैसे कमा सकते हैं। अगर आपके पास एक निच के लोगों की ईमेल होगी तो आप उन्हें भविष्य में सेम निच का कोई दूसरा प्रोडक्ट भी मार्केट कर सकते हैं। ईमेल मार्केटिंग बहुत पावरफुल है।
  1. लैंडिंग पेज या फनल बनायें
आप लैंडिंग पेज या फनल बनाकर भी एफिलिएट मार्केटिंग कर सकते हैं। मार्केट में कई सारे एडवांस सॉफ्टवेयर हैं जिनके द्वारा लैंडिंग पेज या फनल बनाना बहुत आसान होता है। लैंडिंग पेज को आप सोशल मीडिया, यूट्यूब, अन्य माध्यमों के द्वारा प्रमोट कर सकते हैं। आपको ऐसा लैंडिंग पेज बनाना चाहिए जिससे यूजर कन्वर्ट हो सके।

Leave a Reply

Infinix Zero 5G Goes Official in India as the Brand’s First 5G Phone: Price, Specifications Happy Hug Day 2022: Wishes, Messages, Quotes, Images, Facebook & WhatsApp status IPL Auction 2022 Latest Updates Happy New Year Wishes 2022 Happy New Year Wishes 2022 Happy New Year 2022 Wishes Omicron Variant: अमेरिका में ओमिक्रॉन वैरिएंट का पहला मामला