Breaking News

Mamata banerjee lifestyle: ममता बनर्जी जब पेंशन या सैलरी नहीं लेतीं तो घर खर्च कैसे चलता है? Mamata banerjee lifestyle: ममता बनर्जी जब पेंशन या सैलरी नहीं लेतीं तो घर खर्च कैसे चलता है?

 ममता बनर्जी (Mamata banerjee) जो बंगाल में लगातार ही तीसरी बार  चुनाव जीत कर पुर्ण बहुमत से सरकार बनाई और मुख्यमंत्री बनी। आज हम Mamata banerjee lifestyle) और उनकी सादगी जाने गे।  

Mamata banerjee lifestyle


आज हम ये जाने प्रयास करेंगे कि साधारण बंगाली ब्राह्मण परिवार में जन्मीं ममता बनर्जी बंगाल के मुख्यमंत्री कैसे बन गई है। सबसे पहले हम आपको बताते है कि ममता बनर्जी (Mamata banerjee news)  खाने में क्या पंसद है। फूला हुआ चावल, चॉकलेट, चाय, मुरमुरे और आलू के पकोड़े (Mamata banerjee favourote food) पसंद हैं। कई मौकों पर तो वे खुद खाना बनाती हैं। अपने इसी अंदाज की वजह से ही वह लोगों के बीच पॉपुलर हैं। 



चुनाव से पहले india today दिए एक interview में ममता बनर्जी ये जिक्र किया था कि पिछले सात सालों से उन्होंने पेंशन (Mamata banerjee salary) नहीं ली। जबकि वे पूर्व सांसद और मंत्री रहने के चलते पेंशन की हकदार हैं। उसके साथ ही वे सीएम को मिलने वाली सैलरी (Mamata banerjee Property) भी नहीं लेती हैं। ऐसा वह इसलिए करती हैं ताकि सरकार के लाखों रुपये बचा सकें और यह उनका तरीका है।


इसके अलावा आपको ये जान कर हैरानी होगी कि ममता दीदी (Mamata didi) ने यह भी कहा था कि वह हवाई यात्रा भी इकोनॉमी क्लास में करती है। केवल  इतना ही नहीं अगर उन्हें कभी सरकारी गेस्ट हाउस भी रुकना पड़ता है तो उसका खर्चा वे खुद उठाती हैं। यहां तक कि वे चाय भी अपने स्वयं के पैसे से पीती हैं। 


तो अब प्रश्न यह है कि घर का खर्च  कैसे चलता है?


अब सबसे बड़ा प्रश्न यही है कि ममता दीदी का खर्च कैसे चलता है। आईए हम इसके जवाब जानते हैं।ममता दीदी ने कहा कि उनकी 80 से अधिक पुस्तक छप चुकी हैं। इनमें से कुछ बेस्ट सेलर भी हैं। उसके अलावा ममता दीदी गानों के बोल भी लिखती हैं।  जिसके लिए म्यूजिक कंपनी उन्हें एक साल में लगभग तीन लाख (Mamata didi income source) रुपये देती है। वहीं पुस्तक की रॉयल्टी (Mamata benerjee books) से उन्हें सालाना करीब 10 लाख रुपए की कमाई हो जाती है। इन्हीं पैसों से उनका खर्चा चलता है। वह कहती हैं कि अकेले इंसान (Mamata benerjee family) के खर्चे के लिए इतना पैसा बहुत ही अधिक  है।


शायद अपने बंगाल के सड़क पर या फिर सोशल मीडिया पर ममता बनर्जी की पेंटिंग (Mamata benerjee painting) करती हुईं तस्वीरें देखी होंगी, जो अक्सर वायरल होती रहती हैं। ममता दीदी को पेंटिंग का शौक है और वे एक कुशल पेंटर हैं। इस बारे में ममता दीदी (Mamata benerjee latest news) कहती हैं, कि वह पेंटिंग को कभी भी अपने 

इनकमका जरिया नहीं बनाती। उनसे जो भी इनकम होती है वे दान कर देती हैं। तो आपको समझ में आ गया होगा कि बंगाल जनता ने ममता बनर्जी को लगातार तीसरी मुख्यमंत्री पद के लिए क्यों चुनी है।  





 




No comments