Breaking News

Sahaj Jan Seva Kendra or CSC क्या है और कैसे खोलें?

 क्या आप जानते हैं कि ये Sahaj Jan Seva Kendra क्या हैं और इसे कैसे खोला जाए? यह CSC (कॉमन सर्विस सेंटर) भारत सरकार द्वारा लोगों को सुविधा प्रदान करने के लिए स्थापित एक केंद्र है जहाँ ग्रामीण क्षेत्रों में कई सुविधाएँ आम लोगों तक नहीं पहुँचती हैं।



जन सेवा केंद्र एक केंद्र बिंदु है जहां सभी आवश्यक रूप जो सभी लोगों के सामान्य जीवन में उपयोग किए जाते हैं, उन सभी रूपों को कंप्यूटर की मदद से भरा जाता है। कई अन्य महत्वपूर्ण सरकारी कागजात जैसे राशन कार्ड, पेंशन, बीमा, जन्म प्रमाण पत्र, मृत्यु प्रमाण पत्र, बैंक खाता, आधार कार्ड आदि इस केंद्र से बनाए जा सकते हैं जो किसी जरूरतमंद व्यक्ति के लिए उपयोगी हो सकते हैं।


भारत सरकार ने आम जनता को सभी सुविधाएं और सेवाएं प्रदान करने के लिए हर जिले और शहर में कम से कम 5KM की दूरी पर एक जन सेवा केंद्र स्थापित करने का निर्णय लिया है। ग्रामीण क्षेत्रों के लिए गांवों के बीच एक सार्वजनिक सेवा केंद्र खोलने का निर्णय लिया गया है। आज के लेख में सीएससी कहाँ है? सीएससी पंजीकरण आदि कैसे करें इसके बारे में आपको पढ़ने को मिलेगा।

CSC क्या है? सहज जन सेवा केंद्र क्या है?

CSC का पूर्ण रूप कॉमन सर्विस सेंटर है। यह एक सेवा केंद्र है जिसे विशेष केंद्र सरकार द्वारा भारतीय लोगों की मदद के लिए खोला जा रहा है। पूरे देश में ई-गवर्नेंस को लागू करने के लिए, सरकार ने इन आसान लोक सेवा केंद्रों की स्थापना की है।


इसकी मदद से, आप जनता सरकार द्वारा शुरू की गई सभी सुविधाओं का लाभ उठा सकते हैं। इस योजना के तहत कई सुविधाएं उपलब्ध हैं जैसे कि ग्रामीण क्षेत्रों में कृषि, स्वास्थ्य, शिक्षा, मनोरंजन, एफएमसीजी उत्पाद, बैंकिंग, वित्तीय सेवाएं आदि।


CSC का हिंदी में मुख्य उद्देश्य यह है कि इसकी मदद से नागरिकों को उच्च गुणवत्ता और लागत प्रभावी ई-गवर्नेंस सेवाएं प्रदान की जा सकें।


एक सार्वजनिक सेवा केंद्र क्यों आवश्यक है?

आज के युग में, इंटरनेट दुनिया के हर व्यक्ति के जीवन में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहा है। इसकी सहायता से, एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति तक सभी आवश्यक जानकारी इतनी तेजी से भेजी जा रही है कि यह पहले संभव नहीं था।


सभी प्रकार के सरकारी फॉर्म, योजनाएं और योजनाएं इंटरनेट की मदद से लोक सेवा केंद्र में भरी जा रही हैं। ई-गवर्नेंस, आम लोगों की सुख-सुविधाओं को ध्यान में रखते हुए, उनके लिए इंटरनेट के माध्यम से इन सार्वजनिक सेवा केंद्रों को सरकारी व्यवस्था और योजनाएँ भेजें।


इन कारणों से जन सेवा केंद्र का मुख्य उद्देश्य रहा है कि वे बिना भ्रष्टाचार के गरीब लोगों की मदद आसानी से कर सकें।

हम सभी जानते हैं कि हमारे देश के प्रत्येक सरकारी कार्यालय में भ्रष्टाचार एक ऐसा महत्वपूर्ण मुद्दा है, जहाँ चाय और पानी के बिना अपना काम कर पाना असंभव है।


और जो गरीब हैं, उनके लिए और उनके परिवार के लिए दो वक्त की रोटी जुटाना मुश्किल है और फिर वे अपने लिए यह सब सरकारी कागज कैसे बना सकते हैं।


यही कारण है कि हमारे देश में गरीब और जरूरतमंद लोगों तक सभी तरह की सुविधाएं नहीं पहुंच पाती हैं। इसलिए, भारत सरकार ने निर्णय लिया कि लोक सेवा केंद्र की स्थापना हर जिले, गाँव और इलाके में की जानी चाहिए जिसके द्वारा सभी प्रकार की सरकारी योजनाएँ हों। और इस योजना को आम आदमी के लिए मुफ्त में बढ़ाया जा सकता है। हमारे देश के हर शहर और गाँव में एक जन सेवा केंद्र होना बहुत ज़रूरी है।


एक सहज लोक सेवा केंद्र के लिए क्या आवश्यक है

यदि आप अपने क्षेत्र में एक साधारण सार्वजनिक सेवा केंद्र खोलना चाहते हैं, तो इसके लिए आपके पास सभी आवश्यक चीजें होनी चाहिए जो आवश्यक हैं, इसके साथ ही आपको कुछ महत्वपूर्ण जानकारी जैसे शैक्षिक योग्यता, आयु और आवश्यक दस्तावेज प्रदान करना होगा। तो चलिए इसके बारे में पूरी जानकारी प्राप्त करते हैं।


वास


सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि यदि आप CSC (सहज जन सेवा केंद्र) के लिए आवेदन कर रहे हैं तो आपको उस स्थान का स्थानीय व्यक्ति होना चाहिए।


उम्र


आवेदक की आयु 18 वर्ष या उससे अधिक होनी चाहिए।


पात्रता


आवेदक को कम से कम मैट्रिकुलेशन पास (दसवीं) होना चाहिए। अगर आपके पास इसके ऊपर कोई योग्यता है, तो यह आपके लिए बहुत अच्छा है।


अन्य निवासी


आवेदक को स्थानीय भाषा पढ़ना, लिखना और समझना चाहिए। क्योंकि बाद में उनके लिए यह बहुत महत्वपूर्ण है।

अंग्रेजी भाषा का ज्ञान अनिवार्य है और इसके साथ कंप्यूटर का ज्ञान भी आवश्यक है।

डिजिटल इंडिया इंटकिटिव के तहत, भारत सरकार ने पूरे भारत में लगभग 1,00,000 (1 लाख) CSC केंद्र स्थापित करने का निर्णय लिया है। इसके लिए वे योग्य आवेदकों की तलाश कर रहे हैं। इन CSCs का मुख्य काम लोगों की मदद करना है।


सहज जन सेवा केंद्र के लिए आवश्यक सामग्री

 कमरे के लिए 100-150 वर्ग मीटर जगह।

 दो व्यक्तिगत कंप्यूटरों का प्रावधान जिसमें Windows XP-SP2 (ऑपरेटिंग सिस्टम) या बाद की स्थापना की आवश्यकता होती है।

 बैटरी बैकअप कम से कम 5 घंटे का होना चाहिए या आप बैकअप पर पोर्टेबल जनरेटर सेट का उपयोग कर सकते हैं।

 दो प्रिंटर (इंजेक्शन + डॉट मैट्रिक्स) भी होना चाहिए।

 कंप्यूटर की रैम कम से कम 512 एमबी या उससे अधिक होनी चाहिए।

 Computer Hard Drive का साइज़ 120Gb है।

 डिजिटल कैमरा / वेब कैम की आवश्यकता है।

 वायर्ड / वायरलेस / वी-एसटी कनेक्टिविटी की आवश्यकता है।

 स्कैनर बैंकिंग सेवाओं से बायोमेट्रिक / आईआरआईएस प्रमाणीकरण।

 सीडी / डीवीडी ड्राइव

 सीएससी प्रति कुल अनुमानित लागत 1.25 से 1.50 लाख (भूमि और भवन को छोड़कर) होगी।

 अच्छा इंटरनेट कनेक्शन कम से कम 128 केबीपीएस होना चाहिए।

CSC पंजीकरण के लिए शुल्क क्या है?


सीएससी पंजीकरण के लिए आपको कोई शुल्क नहीं देना होगा, यह बिल्कुल मुफ्त है।


कॉमन सर्विस सेंटर से पैसे कैसे कमाएं


अगर आप कॉमन सर्विस सेंटर से पैसा कमाना चाहते हैं, तो आपको ज्यादा कुछ नहीं करना है बल्कि आपको लोगों की जरूरत के मुताबिक काम करना है।

जैसे आप इस जन सेवा केंद्र से पैन कार्ड, वोटर कार्ड, पासपोर्ट के लिए ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। यह आपको प्रति लेनदेन एक अच्छा कमीशन देता है।


यही नहीं, आप मोबाइल रिचार्ज, डीटीएच रिचार्ज, मोबाइल बिल भुगतान, इंस्टेंट मनी ट्रांसफर, डेटा रिचार्ज, एलआईसी प्रीमियम भरने, नौकरी के लिए ऑनलाइन आवेदन, फोटोकॉपी, ट्रेन और बस पंजीकरण, पेंशन सेवा आदि का भी उपयोग कर सकते हैं।


यहाँ आपको हर Transaction करने के लिए बहुत सारे कमीशन मिलते हैं। CSC से लोग 20-30 हजार रुपये आसानी से कमा सकते हैं।


जन सेवा केंद्र होने के क्या लाभ हैं?

जन सेवा केंद्र होने का सबसे बड़ा लाभ यह है कि यह सरकारी कार्यालयों से काफी दूर है और आम आदमी के करीब है ताकि आम आदमी बिना किसी भ्रष्टाचार और परेशानी के आसानी से सेवा प्राप्त कर सके और इसे जल्द से जल्द प्राप्त कर सके।


जन सेवा केंद्र उन लोगों के बहुत करीब है जो किसी भी प्रकार की सरकारी जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं और जन सेवा केंद्र में सभी प्रकार के राज्य और केंद्र सरकार के फॉर्म भर सकते हैं।


CSC सेंटर से पैसे कैसे कमाएँ?

इसमें आप जो भी काम करेंगे, आपको उन सभी कामों के लिए कुछ प्रतिशत कमीशन मिलेगा, जबकि इसमें सभी कामों के लिए एक अलग कमीशन रखा गया है।


इससे संबंधित अधिक जानकारी के लिए, आपको डिजिटल सेवा पोर्टल की वेबसाइट यानी सीएससी की साइट पर मिलेगा। आइये अब आगे जानते हैं। CSC केंद्र के लिए आवेदन कैसे करें, CSC पंजीकरण कैसे करें।


जन सेवा केंद्र कैसे खोलें?

जैसा कि आप जानते हैं, जन सेवा केंद्र केंद्र और राज्य सरकार की योजनाओं और योजनाओं का एक हिस्सा है। इसलिए, जन ​​सेवा केंद्र राज्य सरकार द्वारा अधिकृत एक सुविधा केंद्र है, जिसकी सहायता से आम लोग आसानी से राज्य सरकार की योजनाओं और योजनाओं का लाभ ले सकेंगे।


भारत के प्रत्येक राज्य में एक स्वतंत्र संगठन मौजूद है, जिसे केंद्र सरकार के लिए एक सार्वजनिक सेवा केंद्र खोलने का अधिकार है। जन सेवा केंद्र केवल वही व्यक्ति खोल सकता है जिसने 12 वीं की परीक्षा पास की हो और जिसके पास कंप्यूटर, स्कैनर हो। इंटरनेट, छोटा कार्यालय और अन्य सभी सुविधाएं उपलब्ध हैं, फिर वह एक सार्वजनिक सेवा केंद्र खोल सकता है और आम लोगों की मदद कर सकता है।


नेट बैंकिंग क्या है?
शेयर मार्केट क्या है?

इस केंद्र का नाम हर राज्य में जन सेवा केंद्र से अलग हो सकता है, लेकिन इसका उद्देश्य हमेशा एक ही रहता है। और इस जन सेवा केंद्र के कारण, भारत में हर व्यक्ति सरकार की योजनाओं और योजनाओं से जुड़ा होगा।


यदि आप भी प्रदान की गई सुविधाओं के साथ आम लोगों तक पहुंचना चाहते हैं, तो आप अपने सेहर के जिला कार्यालय से संपर्क कर सकते हैं और एक सार्वजनिक सेवा केंद्र खोल सकते हैं।


CSC Registration कैसे करें

तो फिर चलिए जानते है CSC रजिस्ट्रेशन कैसे करे। प्रत्येक चरण को हिंदी में समझाया गया है।


CSC Registration इन हिंदी के लिए इन चरणों का पालन करें:

1) सबसे पहले नीचे दी गई वेबसाइट पर जाएं।


2) इसके बाद CSC की वेबसाइट पर आपको New VLE Registration का विकल्प दिखाई देगा, उस पर क्लिक करें।


3) अब आपको आधार नंबर बॉक्स में अपना आधार नंबर दर्ज करना होगा।


4) उसके बाद ओटीपी विकल्प का चयन करें।


5) फिर आपको Captcha Box में Captcha कोड डालना होगा।


6) अंत में, आपको सबमिट विकल्प पर क्लिक करना होगा।


7) अब आपके सामने एक नया ओपन बॉक्स खुलेगा, जिसमें लिखा होगा कि 'मेरे पास जो स्टेट है ...'। इसके बगल वाले बॉक्स में आपको एक टिक मार्क लगाना है।


8) अब उसके नीचे Generate OTP ऑप्शन पर क्लिक करें।


9) अब आपके आधार कार्ड में पंजीकृत मोबाइल नंबर पर एक ओटीपी आएगा।


10) अब उस OTP को नीचे दिए गए OTP बॉक्स में भरें।


11) इसके बाद Validate OTP ऑप्शन पर क्लिक करें।


12) ऐसा करें लेकिन आपका आधार सत्यापित हो जाएगा और आपकी जानकारी आपको दिखाई देगी।

कियोस्क - कियोस्क

-> इसके बाद आपकी कंप्यूटर स्क्रीन में एक कियोस्क फॉर्म दिखाई देगा।


-> अब आपको वो फॉर्म भरना है। उसमे आपको अपना CSC सेंटर का नाम, पता आदि भरना है।


-> इसके बाद आपको नीचे दिए गए Continue ऑप्शन पर क्लिक करना है।


बैंकिंग - बैंकिंग

-> उसके बाद बैंकिंग डिटेल और पैन कार्ड डिटेल्स और एक कॉपी डालनी होगी।


-> फिर इसके नीचे Continue ऑप्शन पर क्लिक करें।


दस्तावेज़ - दस्तावेज़

-> इसके बाद डॉक्यूमेंट्स पेज में CSC सेंटर के बाहर की फोटो और अंदर की फोटो संलग्न करनी होगी।


-> अब इसके नीचे लॉन्गिट्यूड और लेटिट्यूड ऑप्शन दिखाई देगा, इसे सेलेक्ट करने के लिए मैप ऑप्शन पर क्लिक करने के लिए नीचे दिए ऑप्शन पर क्लिक करें और अपने CSC सेंटर की लोकेशन जोड़ें।


-> फिर इसके नीचे Continue ऑप्शन पर क्लिक करें।


आधारभूत संरचना - भूमि व्यवस्था

-> अब इंफ्रास्ट्रक्चर पेज में, आपको अपने टूल्स जैसे कंप्यूटर, बायोमेट्रिक आदि के बारे में जानकारी दर्ज करनी है और उसमें डिजी-मेल आईडी (ईमेल आईडी) और सीएससी के लिए अन्य जानकारी।


समीक्षा

-> अब इसके बाद ऊपर दिए गए रिव्यू ऑप्शन पर क्लिक करें और देखें कि आपके द्वारा भरी गई जानकारी सही है या नहीं, फिर उसे एडिट करें। इसमें आपको दोबारा जांचने का मौका मिलता है।


-> इसके बाद निचे दिए गए Agree & Submit ऑप्शन पर क्लिक करें।


-> अब आपको 45 दिनों तक इंतजार करना होगा, उसके बाद डिजी मेल से आपकी ईमेल आईडी पर एक ईमेल आएगा, जिसमें आपको आपकी CSC आईडी / OMT आईडी और पासवर्ड दिया जाएगा। उसके बाद आप अपने डिजिटल सेवा पोर्टल यानी सीएससी साइट पर लॉग इन करके अपना काम शुरू कर सकते हैं।

No comments