Breaking News

दुनिया के जहरीले सांप – Most Poisonous Snake In The World

  लोग अक्सर सांप के नाम से कांपते हैं। क्योंकि उन्हें पृथ्वी के सबसे खतरनाक जीवों में से एक माना जाता है। हालांकि दुनिया में सांपों की 2500-3000 प्रजातियां पाई जाती हैं, लेकिन इनमें से कुछ प्रजातियां बेहद जहरीली हैं। भारत में जहरीले सांपों की केवल 69 प्रजातियां ही जानी जाती हैं, जिनमें से 29 समुद्री सांप हैं और 40 स्थलीय यानि भूमि पर रहने वाले सांप हैं। आज हम आपको इस आर्टिकल के माध्यम से कुछ ऐसे ही जहरीले और घातक सांपों के बारे में बताने जा रहे हैं, जिन्हें अगर काट लिया जाए तो इंसान की मौत होना तय है।


इंनलैंड ताइपन

इंनलैंड ताइपन एक जमीन पर रहने वाला सांप है, जो बेहद जहरीला है। इसके एक काटने में 100 मिलीग्राम तक जहर होता है, जो एक ही झटके में 100 इंसानों को मौत के घाट उतार सकता है। इसका कोबरा कोबरा से 50 गुना ज्यादा खतरनाक होता है।

ब्लैक मम्बा

अफ्रीका में पाए जाने वाले ब्लैक माम्बा पृथ्वी पर सबसे तेज़ चलने वाले साँप हैं, जो 20 किमी प्रति घंटे की गति से अपने शिकार का पीछा कर सकते हैं। हालांकि काले मांबा के जहर का केवल एक मिलीग्राम एक इंसान को मारने के लिए पर्याप्त है, लेकिन जब कोई सांप किसी पर हमला करता है, तो वह उसे लगातार 10-12 बार काटता है और उसके शरीर में 400 मिलीग्राम तक जहर निकलता है।

इस्टर्न ब्राउन स्नेक

यह सांप ऑस्ट्रेलिया में पाया जाता है, जो बेहद जहरीला होता है। यह कहा जाता है कि किसी व्यक्ति को नींद में लाने के लिए उसका 14,000 वां जहर ही काफी है।

समुद्री सांप

समुद्री साँप या समुद्री साँप दक्षिण-पूर्व एशिया और उत्तरी ऑस्ट्रेलिया में पाए जाते हैं। उन्हें दुनिया का सबसे जहरीला सांप माना जाता है। कहा जाता है कि इस सांप के जहर की कुछ ही बूंदें 1000 इंसानों को मौत की नींद सुला सकती हैं। हालांकि, ये सांप केवल समुद्र में पाए जाते हैं। इस वजह से आम इंसान इनका शिकार नहीं होते हैं, लेकिन मछुआरे मछली पकड़ने के दौरान इनके शिकार हो जाते हैं।

फिलिपिनो कोबरा

हालांकि कोबरा सांपों की अधिकांश प्रजातियां जहरीली होती हैं, लेकिन फिलिपिनो कोबरा में किसी को भी इतना जहर नहीं होता है। इस सांप की सबसे बड़ी खासियत यह है कि शिकार को डंक मारने के बजाय यह दूर से ही जहर उगल देता है। इसका जहर न्यूरो टॉक्सिक है, जो सांस और दिल को सीधे प्रभावित करता है।

No comments