Breaking News

महज 10 सेकेंड में मिट्टी में मिल गई 144 मंजिला इमारत, गिनीज बुक में दर्ज हुआ नाम

  भारत में किसी भी दो या तीन मंजिला इमारत के निर्माण में आमतौर पर महीनों का समय लगता है। ऐसी स्थिति में, कल्पना कीजिए कि 144 मंजिला इमारत बनाने में कितने महीने या साल लगे होंगे, लेकिन संयुक्त अरब अमीरात के अबू धाबी में 144 मंजिला इमारत को ध्वस्त कर दिया गया और वह भी महज 10 सेकंड में। आपको यह जानकर हैरानी होगी, लेकिन यह बिल्कुल सच है। खबरों के मुताबिक, मीना प्लाजा के 144 मंजिला ऊंचे टॉवर को ध्वस्त करने के बाद इसका नाम गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में दर्ज हो गया, क्योंकि इससे पहले इतने कम समय में इस तरह की कोई इमारत अब तक ध्वस्त नहीं हुई थी।


मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, 144 मंजिला टॉवर की ऊंचाई 165 मीटर थी। डायनामाइट से विस्फोट कर उसे ध्वस्त कर दिया गया। इसे गिराने के लिए 915 किलोग्राम विस्फोटक का इस्तेमाल किया गया था। इसमें 3000 से अधिक डेटोनेटर लगाए गए थे, जिसकी वजह से इमारत पलक झपकते ही जमींदोज हो गई। इस घटना की तस्वीरें और वीडियो सोशल मीडिया पर बहुत वायरल हो रहे हैं, जिन्हें देखकर आप आश्चर्यचकित हुए बिना नहीं रह पाएंगे।

इस इमारत के ढहने की घोषणा अबू धाबी मीडिया कार्यालय और अबू धाबी के नगरपालिका नियामक, नगर निगम और परिवहन विभाग ने विस्फोट के तुरंत बाद की थी। हालांकि, इमारत को गिराने से पहले, इसके आसपास की दुकानों और बाजारों को अस्थायी रूप से बंद कर दिया गया, जिससे किसी को कोई नुकसान नहीं हुआ।

खबरों के मुताबिक, पिछले महीने UAE के अबू धाबी में मोडन प्रॉपर्टीज द्वारा 144 मंजिला इमारत खरीदी और ध्वस्त की गई थी। हालांकि, यह अभी तक ज्ञात नहीं है कि उस स्थान पर क्या बनाया जाएगा, अर्थात उस स्थान का उपयोग कैसे किया जाएगा।

No comments