Breaking News

covid-19 pandemic: कोरोना महामारी की वजह से 10 करोड़ से अधिक लोग बहुत गरीबी में जा सकते हैं World Bank

 


नमस्कार दोस्तों कोरोना वायरस (covid-19) की वजह से विश्व भर गरीबी के बढ़ने की उम्मीद जताई जा रही है। ये बात हम नही बल्कि विश्व बैंक (World Bank) ने कहा है।

covid-19 pandemic


महामारी की वजह से पूरे विश्व में 10 करोड़ से अधिक लोग बहुत ही गरीबी में जीवन गुजारने को मजबूर होंगे। विश्व बैंक के अध्यक्ष डेविड मालपास (World Bank President David Malpass) ने यह बात कही। 


विश्व बैंक (World Bank) ने पहले ही अनुमान लगाया था कि कोरोना के वजह से  6 करोड़ से अधिक लोग बहुत गरीब हो जाएंगे।लेकिन विश्व बैंक ने अब कहा है कि आंकड़ा 10 करोड़ से अधिक तक पहुंच सकता है।विश्व बैंक ने चेताया है कि महामारी लंबे समय तक रही तो यह आंकड़ा और भी ज्यादा हो सकता है। 


मालपास ने क्या कहा ?


मालपास ने कहा कि अमीर देशों को गरीब देशों की सहायता के लिए आगे आना पड़ेगा।तभी इतनी बड़ी आबादी को प्रभावित होने से कुछ हद तक बचाया जा सकेगा। लेकिन उन्होंने यह भी कहा कि ऐसा करने की आड़ में अमीर देश गरीब देशों का शोषण भी कर सकते हैं।मालपास ने कहा कि इतनी बड़ी आबादी के प्रभावित होने की बड़ी वजह नौकरियों के जाने और फूड सप्लाई चैन के सही तरीके से काम न करना भी है।


आपको बता दे कि विश्व के 20 सबसे अमीर अर्थव्यवस्था वाले देशों ने गरीब और कर्जदार देशों से पैसों की वसूली को इस साल प्रतिबंध लगा दिया गया। तथा उनकी सहायता भी कर रहे हैं लेकिन यह काफी नहीं है। 

 

दोस्तों मैंने अपने पुराने ब्लॉग बता दिया था इस साल दुनिया अर्थव्यवस्था (Economy) सबसे ज्यादा प्रभावित होगा। 1930 में अर्थव्यवस्था में आई महामंदी की वजह से दुनिया की GDP 15 प्रतिशत तक गिर गई थी।जबकि साल 2008 की आर्थिक मंदी से दुनिया की GDP को सिर्फ 1 प्रतिशत का नुकसान हुआ था। यानी 2008 में जो नुकसान हुआ था, उससे 15 से 20 गुना अधिक बड़ा नुकसान 2020 में हो सकता है। ये ऐसा नुकसान है जिसकी आप कल्पना भी नहीं कर सकते है। अगर आज दुनिया की सकल घरेलू उत्पाद (GDP )15 प्रतिशत गिरी तो इससे दुनिया की अर्थव्यवस्था को 2 हजार लाख करोड़ रुपये का नुकसान होगा। ये आशंका International Monetary Fund  (IMF) ने जताई है। कोरोना वायरस (covid-19) की वजह से विश्वभर की अर्थव्यवस्था पुरी बर्बादी के कगार पर है , स्थिती जल्द सामान्य नही होती है , आने वाले दिनो में गरीबी आंकड़े और ज्यादा होने की उम्मीद है , दुनिया में महामंदी आना तय है ।

covid 19 india : मेरे दृष्टिकोण जानिए कैसे आपदा काल भारत अवसर में बदल सकता है ...

Shashi kant yadav

दोस्तों आपको ये लेख कैसा लगा हमे कामेंट जरूर बताईए और पंसद आए तो मित्रो साझा शेयर करे साथ में latest information पाने के हमारे साइट को बिल्कुल ही नि: शुल्क subscribe कर ले.


No comments