कभी भी टूट सकता है NDA गठबंधन! Jdu के पूर्व विधायक के बाद तारकिशोर प्रसाद का छलका दर्द

 बिहार के NDA सरकार (government) चल रही है। जैसा कि मैंने सरकार सपथ लेने के पांच दिनो के बाद ही बता दिया था कि ये सरकार अपने पुरे पांच साल पुरा नहीं करेंगा। अब वो सच होता दिख रहा है। ऐसा इसलिए क्योंकि जेडीयू के पूर्व विधायक श्याम बहादुर सिंह ने गठबंधन के भविष्य को लेकर चिंता जताई है। वहीं राज्य के उपमुख्यमंत्री तारकिशोर प्रसाद का भी दर्द छलका है। दोनों नेताओं के बयानों से राज्य में सियासी अटकलों का बाजार गर्म हो गया है। 

Nitish kumar

Shashikant yadav blog Super exclusive : जानिए क्या nitish kumar ओर क्या west Bengal चुनाव बाद बिहार राजनीति में कुछ बड़ा होने जा रहा •••

तारकिशोर प्रसाद बोले- बिहार में बड़े भाई की भूमिका में है भाजपा 

बिहार के डिप्टी सीएम तारकिशोर प्रसाद ने महिला मोर्चा की दो दिवसीय प्रदेश कार्यसमिति के मंच से बोले कि बिहार सरकार में बीजेपी बड़े भाई की भूमिका में है लेकिन सरकार के कामकाज और नीतियों में अपेक्षा अनुसार पार्टी का असर नहीं दिख रहा है। उन्होंने कहा कि ये सच है कि मैं सरकार के कार्यक्रमों में नजर नहीं आ रहा हूं। उन्होंने संभावना जताई कि जल्द ही बिहार सरकार की नीतियों और कार्यप्रणाली में बीजेपी का असर दजिम्मेदारीीतीश को मजबूत करें कार्यकर्ता

सीवान जिले से जदयू के पूर्व विधायक श्‍याम बहादुर सिंह ने कहा कि भाजपाऔर जदयू का गठबंधन कभी भी टूट सकता है। उन्‍होंने बीजेपी पर बिहार विधानसभा चुनाव में जदयू को धोखा देने का आरोप लगाया। सिंह ने कहा कि बीजेपी पर भरोसा नहीं है इसलिए कार्यकर्ता मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को मजबूत करें ताकि पार्टी अपने दम पर खड़ी हो सके। उन्होंने जदयू के कई उम्मीदवारों की हार का जिम्मेदारी भी बीजेपी पर फोड़ा। वास्तव हैरान करने वाली बात ये है कि जब उन्होंने यह बयान दिया उस समय मंच पर जेडीयू के प्रदेश अध्‍यक्ष उमेश सिंह कुशवाहा सहित पार्टी के कई वरिष्ठ नेता मौजूद थे, परंतु किसी ने भी श्याम बहादुर सिंह के बयान का खंडन नहीं किया।

सरकार गठन के बाद से ही उठ रहे हैं प्रश्न चिन्ह

पिछले साल राज्य में हुए विधानसभा चुनाव में जेडीयू को 43 और बीजेपी को 74 सीटों पर जीत मिली थी। सरकार गठन में पिछली सरकार के पैटर्न को अपनाया गया है। बीजेपी को अधिक सीटें मिलने के बावजूद कई अहम विभाग जेडीयू के पास हैं। इसे लेकर समय-समय पर बीजेपी के अंदर असंतोष के स्वर उठते रहे हैं। इसे समाप्त करने के लिए  BJP  ने राज्य में अपने दो नेताओं को डिप्टी सीएम बनाया और शाहनवाज हुसैन को केंद्र से राज्य राजनीति में भेजा है। वहीं विपक्षी पार्टी राजद और लोजपा भी गठबंधन टूटने की संभावना जता चुकी है। यहां तक की RJD ने नीतीश को तेजस्वी से हाथ मिलाकर राज्य की सत्ता पर काबिज होने का ऑफर दिया था।

Leave a Reply

Infinix Zero 5G Goes Official in India as the Brand’s First 5G Phone: Price, Specifications Happy Hug Day 2022: Wishes, Messages, Quotes, Images, Facebook & WhatsApp status IPL Auction 2022 Latest Updates Happy New Year Wishes 2022 Happy New Year Wishes 2022 Happy New Year 2022 Wishes Omicron Variant: अमेरिका में ओमिक्रॉन वैरिएंट का पहला मामला